May 2, 2021

कार्मिक विभाग की ओर से एक ऐसे शिक्षक की मतगणना में ड्यूटी लगा दी गई जिसकी मौत बीते 26 अप्रैल को ही हो चुकी

बहराइच।
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मतगणना ड्यूटी को लेकर कार्मिक विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है। जिसने कई लोगों को झकझोर कर रख दिया है। कार्मिक विभाग की ओर से एक ऐसे शिक्षक की मतगणना में ड्यूटी लगा दी गई जिसकी मौत बीते 26 अप्रैल को ही हो चुकी है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तहत जिले का मतदान 29 अप्रैल को संपन्न हो चुका है।
रविवार को होने वाली मतगणना को लेकर जिला प्रशासन की ओर से तैयारियों भी पूरी कर ली गई हैं। सकुशल मतगणना संपन्न करवाने के लिए कार्मिक विभाग की ओर से कर्मचरियों की तैनाती भी कर दी गई है। लेकिन कार्मिक विभाग की मतगणना तैनातियों ने एक परिवार में हुई बेटे की मौत के बाद भावनाओं को कुरेदने का काम भी किया है। महसी ब्लॉक में सहायक अध्यापक के पद पर कार्यरत शिक्षक अमरेन्द्र मौर्य का निधन बीते 26 अप्रैल को हो गया था। बेटे की मौत से पूरा परिवार गमजदा है, और परिजन धीरे-धीरे गम भुलाने की कोशिश कर रहे हैं। इसी बीच जिम्मेदारों ने मृत शिक्षक अमरेन्द्र कुमार मौर्य को मतगणना की जिम्मेदारी सौंप दी, और 2 मई को नियत स्थान पर मतगणना स्थल पर उपस्थित होने का लेटर जारी कर दिया। कार्मिक विभाग की इस लापरवाही से शिक्षक के परिजन एक बार फिर से बेटे की मौत को लेकर रो पड़े। वहीं कईयों ने विभाग की इस लापरवाही पर रोष जताया।

 

कार्मिक विभाग की ओर से एक ऐसे शिक्षक की मतगणना में ड्यूटी लगा दी गई जिसकी मौत बीते 26 अप्रैल को ही हो चुकी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment