May 5, 2021

सरकार को कर्मचारी विरोधी मानसिकता से आना चाहिए बाहर

 



सरकार कर्मचारियों के हितों की लगातार अनदेखी कर रही है। कोविड महामारी के बीच कर्मचारियों को बिना किसी व्यवस्था प्रशिक्षण, चुनाव व मतगणना में झोंक दिया गया। करीब 1500 शिक्षकों व कर्मचारियों को जान गंवानी पड़ी है। कोर्ट में जिस व्यवस्था का आश्वासन दिया गया, उस पर भी अमल नहीं हुआ। अपनों को खोने वाले शिक्षकों, कार्मिकों व उनके परिवारों में आक्रोश स्वाभाविक है। सरकार को कर्मचारी विरोधी मानसिकता से बाहर आना चाहिए।
- हरिकिशोर तिवारी, अध्यक्ष संयुक्त राज्य कर्मचारी परिषद

सरकार को कर्मचारी विरोधी मानसिकता से आना चाहिए बाहर Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment