May 7, 2021

लॉकडाउन के बीच नौकरियों का पिटारा खुलने के संकेत, डीडीयू में टीचर और कर्मचारी के पदों के लिए जल्‍द आएगी वैकेंसी

 

पूर्वाचल के युवाओं के लिए बड़ी खबर है। दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय में खाली चल रहे शैक्षणिक और गैर शैक्षणिक पदों पर नियुक्तियों की राह आसान हो गई है। जल्द ही विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से खाली पदों पर भरे जाने के लिए विज्ञापन जारी किया जाएगा। इसे लेकर तमाम औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं।
बुधवार को कुलपति प्रो राजेश सिंह की अध्यक्षता में संकायाध्यक्षों, विभागाध्यक्षों के साथ हुई ऑनलाइन वर्चुअल मीटिंग में फैसले पर सहमति बनी है। कुलपति ने कहा कि खाली पदों को भरे जाने के लिए रोस्टर को कार्यपरिषद की मंजूरी पूर्व में ही मिल चुकी है। जल्द ही विज्ञापन के माध्यम से आवेदन आमंत्रित किए जाएंगे। इसके साथ ही सभी विभागाध्यक्षों को विभागवार एक इंफॉर्मेशन ब्रोशर तैयार किया जाएगा। इस ब्रोशर में विभाग का इतिहास, ऑब्जेक्टिव, क्या क्या कोर्स उपलब्ध है, उनके कंटेंट क्या क्या है, कितनी सीट, फैकल्टी और एल्युमिनाई है इसका ब्योरा मौजूद रहेगा। इसे तैयार करने के दौरान इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि सभी का फॉर्मेट एक जैसा हो। ब्रोशर में प्रवेश की गाइड लाइन और रिजर्वेशन से जुड़ी जानकारी भी मौजूद रहेगी।

सीबीसीएस मोड में तैयार होगा स्नातक कोर्स


कुलपति ने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से हर सप्ताह संकायाध्यक्षों और यूनिवर्सिटी के अधिकारियों से बैठक कर कोविड काल में अध्ययन अध्यापन का माहौल बनाए रखने पर चर्चा होगी। बैठक में पीएचडी के कोर्स को सीबीसीएस मोड में तैयार करने पर शिक्षकों को बधाई दी गई। साथ ही यूजी (स्नातक) और पीजी (परास्नातक) का कोर्स भी सीबीसीएस मोड पर तैनात करने का निर्देश दिया गया। विभागवार आयोजित होने वाले एल्युमिनाई को दोबारा ऑनलाइन मोड में शुरू किया जाए। इसके लिए एक डिपार्टमेंटल और एल्युमिनाई का पेज तैयार करें। इसे विवि की वेबसाइट पर भी उपलब्ध कराया जाएगा।

 

जारी होगा पीएचडी नोटिफिकेशन

कुलपति ने कहा कि पीएचडी प्रवेश के जुड़ा नोटिफिकेशन सभी संकायाध्यक्ष दो दिन के अंदर यानी 7 मई तक जारी कर दें। इसे विवि की वेबसाइट पर भी डाला जाएगा ताकि पीएचडी प्रवेश से जुड़ी जानकारी विद्यार्थियों को मिल सके। कोरोना की वजह से विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षाएं 15 जून तक स्थगित की गई हैं। इस पर तय समय पर चर्चा होगी। इसके साथ ही बोर्ड ऑफ स्टडीज को रिवाइज करने और प्रैक्टिकल परीक्षाएं वार्षिक परीक्षाओं के बाद आयोजित करने पर सहमति बनी।

 

हेल्थ सेंटर पर उपलब्ध होंगी आवश्यक दवाएं

बैठक के दौरान सदस्यों ने हेल्थ सेंटर पर कोविड के इलाज से जुड़ी आवश्यक दवाएं उपलब्ध कराने की मांग की गई। जिस पर कुलपति ने सहमति जताई। उन्होंने शिक्षकों से विश्वविद्यालय के हेल्थ सेंटर पर कोविड महामारी से निजात दिलाने वाले आवश्यक दवाओं को उपलब्ध कराने का वादा किया। इसे लेकर अधिष्ठाता छात्र कल्याण को एक प्रस्ताव तैयार कर प्रेषित करने का निर्देश दिया गया।

 

सहायक आचार्य डॉ. शरद को किया नमन

अर्थशास्त्र विभाग के सहायक आचार्य डॉ शरद चंद्र श्रीवास्तव के कोविड संक्रमण से निधन पर शोक व्यक्त करने के साथ इस मुश्किल क्षण में उनके परिवार को किस तरह सहायता प्रदान की जाए, इस पर भी चर्चा हुई।

अन्य अहम फैसले

- पूर्वांचल का सेमिनार, पंडित दीनदयाल उपाध्याय का सेमिनार, नाथ पंथ के सेमिनार पर प्रकाशित होने वाले साहित्य पर चर्चा कर जल्द रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया

- नैक और एनआईआरएफ रैंकिंग को लेकर जारी नई गाइडलाइन पर चर्चा करने के लिए जिम्मेदारों को बैठक करने का निर्देश दिया गया

लॉकडाउन के बीच नौकरियों का पिटारा खुलने के संकेत, डीडीयू में टीचर और कर्मचारी के पदों के लिए जल्‍द आएगी वैकेंसी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment