Primary ka Master & UPTET News

May 3, 2021

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने पिछले दो साल में अधिकतर भर्तियों को तेजी से निस्तारित

 प्रयागराज : उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने पिछले दो साल में अधिकतर भर्तियों को तेजी से निस्तारित किया है। लेकिन, कुछ भर्तियां ऐसी हैं, जिसकी ओर आयोग का ध्यान नहीं गया। विधि विज्ञान प्रयोगशाला में वैज्ञानिक अधिकारी की भर्ती चार साल से लटकी है। आयोग ने मार्च 2017 में वैज्ञानिक अधिकारी की 54 पद की भर्ती निकाली थी। लेकिन, वह अभी तक पूरी नहीं हो सकी।



उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने विधि विज्ञान प्रयोगशाला में वैज्ञानिक अधिकारी के लिए 17 मार्च से 18 अप्रैल 2017 तक आवेदन लिया था। इसके तहत भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, फोरेंसिक लाई डिटेक्टर, ब्रेन मै¨पग, नाकरे एनालिसिस आदि अनुभागों के अभ्यर्थियों का जून 2019 में साक्षात्कार लेकर परिणाम जारी किया गया। लेकिन, चयनितों को अभी तक नियुक्ति नहीं मिली। वे आयोग का चक्कर काट रहे हैं। वहीं, जीव विज्ञान व कंप्यूटर फोरेंसिक अनुभाग के अभ्यर्थियों का साक्षात्कार भी नहीं लिया गया। अभ्यर्थियों ने आरटीआइ के जरिए आयोग से भर्ती रुकने का कारण जानना चाहा, तब आयोग की ओर से बताया गया कि अभी पदों की स्थिति तय नहीं है, इससे भर्ती पूरी नहीं की जा रही है। अभ्यर्थियों का दावा है कि सुप्रीम कोर्ट ने फोरेंसिक भर्तियों को जल्द पूरी करने का आदेश दिया है। लेकिन, उसके अनुरूप कार्रवाई नहीं हो रही है।

आयोग ने मार्च 2017 में वैज्ञानिक अधिकारी की पदों की भर्ती निकाली थी, लेकिन वह अभी तक पूरी नहीं हो सकी है

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने पिछले दो साल में अधिकतर भर्तियों को तेजी से निस्तारित Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment