Jun 22, 2021

12वीं की वैकल्पिक परीक्षा 15 अगस्त से 15 सितंबर के बीच होगी

 नई दिल्ली : सीबीएसई के बारहवीं के मूल्यांकन और रिजल्ट से संतुष्ट न होने वाले छात्र वैकल्पिक परीक्षा दे सकते हैं। परिस्थितियां ठीक रहीं तो वैकल्पिक परीक्षा 15 अगस्त से 15 सितंबर के बीच होगी। वैकल्पिक लिखित परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए परीक्षा में मिले अंक ही अंतिम माने जाएंगे।



ये जानकारी सीबीएसई ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट को दी। सीबीएसई ने कोर्ट को बताया कि कोर्ट के सुझाव के मुताबिक मूल्यांकन नीति में ये चीजें शामिल कर दी गई हैं। बोर्ड ने कोर्ट को बताया कि बारहवीं का रिजल्ट 31 जुलाई तक घोषित कर दिया जाएगा, जो लोग रिजल्ट और मूल्यांकन से संतुष्ट नहीं होंगे वे वैकल्पिक परीक्षा दे सकते है। इस परीक्षा में शामिल होने वालों के लिए लिखित परीक्षा के अंकों को ही अंतिम माना जाएगा। वैकल्पिक परीक्षा के लिए आनलाइन रजिस्ट्रेशन होगा। एक कमेटी रिजल्ट पर छात्रों की आपत्तियां देखेगी।

आइसीएसई बोर्ड ने भी सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि बारहवीं का रिजल्ट 31 जुलाई के पहले घोषित कर दिया जाएगा। असंतुष्ट छात्र सुधार के लिए इम्प्रूवमेंट परीक्षा दे सकते हैं। इम्प्रूवमेंट परीक्षा एक सितंबर तक करा ली जाएगी।

’>>सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट को परीक्षा का सौंपा विवरण

’>>आइसीएसई की भी परीक्षा एक सितंबर तक करा ली जाएगी

12वीं की वैकल्पिक परीक्षा 15 अगस्त से 15 सितंबर के बीच होगी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment