Aug 29, 2021

उत्कृष्ट शिक्षक के पुरस्कार से पूर्व डिप्टी सीएम करेंगे सम्मान

 जाके पैर न फटे बेवाइ वो क्या जाने पीर पराई..। यह कहावत नक्खास के एमडी शुक्ला इंटर कालेज के प्रधानाचार्य डा.हरिनारायण उपाध्याय पर बिल्कुल सटीक बैठती है। आíथक तंगी में पढ़ाई के साथ गरीबों के बच्चों को घर जाकर पढ़ाने की उनकी ललक ने उन्हें आम से खास बना दिया। घमंड से दूर जमीन से जुड़े रहने की उनकी इस प्रवृत्ति का नजीता यह रहा कि पांच सितंबर को उन्हें प्रदेश का सर्वश्रेष्ठ राज्य शिक्षक पुरस्कार दिया जाएगा। समय का चक्र कुछ ऐसा है कि 31 अगस्त का सेवानिवृत्त के बाद उन्हें पुरस्कार प्राप्त करने का मौका मिलेगा, जिसका उन्हें कोई मलाल भले ही न हो, लेकिन सेवा में रहते पुरस्कार पाने की तमन्ना जरूर है।



पुरस्कार भले ही सेवानिवृत्त के बाद मिले, लेकिन 31 अगस्त को उपमुख्यमंत्री डा.दिनेश शर्मा और विधि एवं न्यायमंत्री ब्रजेश पाठक उनका सम्मान करेंगे। इन्हीं के द्वारा विद्यालय में बले नव निíमत कक्ष का लोकार्पण भी किया जाएगा। डा. हरिनारायण ने कहा कि मेरा जन्म अमेठी पूरे कोदई ग्राम के किसान परिवार में हुआ। आíथक रूप से कमजोर परिवार के होने के बावजूद इलाहाबाद विश्वविद्यालय से परास्नातक और फिर ऋग्वेद में पर्यावरणीय चेतना एक समीक्षात्मक अनुशीलन पर शोध के लिए डाक्टरेट की उपाधि मिली।
डा. हरिनारायण ’ सौजन्य: स्वयं

उत्कृष्ट शिक्षक के पुरस्कार से पूर्व डिप्टी सीएम करेंगे सम्मान Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment