Aug 29, 2021

परिषदीय स्कूलों की हालत और उसकी दशा सुधारने को लेकर शासन ने टीम गठित

संतकबीरनगर। परिषदीय स्कूलों की हालत और उसकी दशा सुधारने को लेकर शासन ने टीम गठित कर दी है। टीम जल्द ही जिले में आएगी और स्कूलों का निरीक्षण करेगी। इसके बाद अपनी रिपोर्ट शासन को सौंपेगी। टीम बीआरसी के साथ ही कस्तूरबा विद्यालयों का भी निरीक्षण करेगी।


कोविड लहर के बाद करीब पांच माह बाद परिषदीय स्कूल 23 अगस्त से खुल गए हैं। जहां पर कक्षा छह से लेकर आठ तक की पढ़ाई शुरू हो चुकी है। एक सितंबर से कक्षा एक से पांच तक के स्कूल संचालित होने शुरू हो जाएंगे। ऐसे में स्कूलों की क्या
व्यवस्था है और भवन, छात्र संख्या, शिक्षक संख्या, प्रेरणा
पोर्टल पर शिक्षकों की उपस्थित, निशुल्क पाठ्य पुस्तक, कार्य पुस्तिका की आपूर्ति, यूनिफार्म वितरण व बीआरसी पर उपलब्ध संसाधन किस दशा में हैं, इसको जांचने के लिए शासन ने टीम का गठन किया गया है। महानिदेशक स्कूली शिक्षा अभियान अनामिका सिंह ने प्रदेश के हर जिलों में टीम का गठन किया है। संतकबीरनगर जिले में अपर परियोजना निदेशक समग्र शिक्षा अभियान रोहित त्रिपाठी को नामित किया गया है। जो सितंबर के प्रथम सप्ताह में जिले में आ सकते हैं और स्कूलों की जांच करेंगे। शासन से टीम के नामित होने की सूचना पर विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। सभी अभिलेख दुरुस्त किए जा रहे हैं। प्रभारी बीएसए गिरीश कुमार सिंह ने बताया कि टीम जल्द ही जिले में आएगी। इसको देखते हुए सभी बीआरसी और प्रधानाध्यापकों को अभिलेख दुरुस्त करने के निर्देश दिए गए हैं।

 

परिषदीय स्कूलों की हालत और उसकी दशा सुधारने को लेकर शासन ने टीम गठित Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment