Sep 8, 2021

मोदी सरकार दीवाली से पहले केंद्रीय कर्मचारी को फिर से तोहफा दे सकती है


नई दिल्ली। केंद्र की मोदी सरकार महंगाई भत्ता (डीए), महंगाई राहत (डीआर) और किराया भत्ता (एचआरए) में बढ़ोतरी के बाद दिवाली से पहले सरकारी कर्मचारियों को फिर तोहफा दे सकती है। केंद्र ने जुलाई में महंगाई भत्ता 17 फीसदी से बढ़ाकर 28 फीसदी और हाउस रेंट अलाउंस 24 फीसदी से बढ़ाकर 27 फीसदी किया था। अब केंद्रीय कर्मियों का महंगाई भत्ता फिर 3 फीसदी बढ़ेगा इसके बाद यह बढ़कर 31 फीसदी हो जाएगा। बता दें कि केंद्र ने कोरोना के कारण महंगाई भत्ते की बढ़ोतरी को मई 2020 में रोक दिया था।

केंद्रीय कर्मचारी महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी के बाद से डीए एरियर की मांग कर रहे हैं। नेशनल काउंसिल ऑफ जेसीएम, डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग और वित्त मंत्रालय के बीच इस लेकर 26-27 जून 2021 में बैठक हुई थी। हालांकि, इस पर अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है। केंद्र ने 17 फीसदी की दर से दिया जा रहा कर्मचारियों का महंगाई भत्ता कोरोना के दौरान करीब डेढ़ साल तक रोक दिया था। जानकारों के मुताबिक, लेवल-1 के कर्मियों का डीए एरियर 11,880 रुपये से 37,554 रुपये के बीच बनता है वहीं, लेवल-14 (पे-स्केल) के कर्मचारी को डीए के 1,44,200 रुपये से लेकर 2,18,200 रुपये तक मिलेगा। पिछले साल के मुकाबले कुल महंगाई भत्ता 11 फीसदी बढ़ चुका है मोदी सरकार ने जुलाई 2021 से इस 28 फीसदी कर दिया है। अब जून 2021 में अगर यह 3 फीसदी बढ़ता है, तब इसके बाद महंगाई भत्ता 31 फीसदी पर पहुंच जाएगा। दूसरे शब्दों में समझे तब एक कर्मचारी की बेसिक सैलरी 50,000 रुपये हैं, तब उस 15,500 रुपये डीए मिलेगा। वहीं, केंद्र की तर्ज पर राज्यों ने भी डीए बढ़ाने का फैसला किया है। इसमें उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, झारखंड, हरियाणा, कर्नाटक, राजस्थान और असम शामिल हैं। डीए कर्मचारी की बेसिक सैलरी का निश्चित हिस्सा होता है। देश में महंगाई के असर को कम करने के लिए सरकार अपने कर्मचारियों को महंगाई भत्ता देती है, जिसे समय-समय पर बढ़ाया जाता है।

 

मोदी सरकार दीवाली से पहले केंद्रीय कर्मचारी को फिर से तोहफा दे सकती है Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment