5 अक्तू॰ 2021

45,633 परिषदीय स्कूलों में आठवीं तक की छात्राओं को भी मिलेगा आत्मरक्षा का प्रशिक्षण

 

लखनऊ। प्रदेश में आठवीं कक्षा तक की छात्राओं को भी आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया जाएगा। केंद्र सरकार के शिक्षा मंत्रालय ने रानी लक्ष्मीबाई आत्मरक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत बेसिक शिक्षा परिषद के 45,633 स्कूलों में छात्राओं के लिए आत्मरक्षा प्रशिक्षण शुरू करने की मंजूरी दी है।


प्रदेश में छात्राओं के स्कूल आने जाने के वक्त शोहदों द्वारा छेड़खानी की शिकायतें मिलती रहती हैं। ऐसे में छात्राएं स्कूल जाने से डरने लगती हैं। इसलिए शिक्षा मंत्रालय ने छात्राओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिलाने की व्यवस्था की है। कक्षा 9 से 12 तक के विद्यालयों में यह प्रयोग सफल होने के बाद इसे अब परिषदीय स्कूलों में भी लागू किया जा रहा है। प्रदेश के 45,633 परिषदीय स्कूलों की छात्राओं को कराटे गुर सिखाए जाएंगे। प्रत्येक स्कूल में प्रशिक्षण के लिए पांच हजार रुपये की दर से 11 करोड़ 81 लाख 65 हजार रुपये मंजूर किए हैं। वहीं कक्षा 9 से 12 तक की 2,272 स्कूलों में भी आत्मरक्षा प्रशिक्षण के लिए 1 करोड़ 13 लाख 60 हजार रुपये स्वीकृत किए गए हैं।


कॅरियर गाइडेंस प्रोग्राम भी चलेंगे

शिक्षा मंत्रालय ने प्रदेश के 800 माध्यमिक विद्यालयों में छात्राओं के लिए कैरियर गाइडेंस कार्यक्रम संचालित करने की मंजूरी दी है। इसमें छात्राओं को उनके भविष्य के प्रति जागरूक किया जाएगा। इसके जरिए माध्यमिक विद्यालयों में छात्राओं का नामांकन भी बढ़ाया जाएगा। प्रत्येक स्कूल को इसके लिए सात हजार रुपये का बजट दिया है।

45,633 परिषदीय स्कूलों में आठवीं तक की छात्राओं को भी मिलेगा आत्मरक्षा का प्रशिक्षण Rating: 4.5 Diposkan Oleh: TET NEWS

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें