Nov 26, 2021

जिले के 208 तदर्थ शिक्षकों पर मंडरा रहा खतरा अब टल गया

 

अयोध्या। जिले के 208 तदर्थ शिक्षकों पर मंडरा रहा खतरा अब टल गया है। शासन के निर्देश पर इनकी सेवाएं बहाल रखने का फरमान जिले में भी जारी हुआ है। आयोग से चयनित होकर आए शिक्षकों का समायोजन अन्यत्र करने के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक ने निदेशालय को प्रस्ताव भेजा है।

जिले के सहायता प्राप्त विद्यालयों में 208 शिक्षकों की तदर्थ शिक्षकों के रूप में तैनाती की गई है। इनमें से सात विद्यालयों में तैनात 20 शिक्षकों के स्थान पर आयोग ने शिक्षकों की तैनाती करके पदभार ग्रहण करने के लिए जिले में भेजा था। शेष अन्य शिक्षकों के भविष्य पर संकट के बादल मंडरा रहे थे। इसे लेकर शासन स्तर तक शिक्षक संघर्ष कर रहे थे।

लंबे समय से चल रही इस मुहिम में तदर्थ शिक्षकों को राहत मिली है और शासन ने इनकी सेवाएं बहाल रखने का आदेश दिया है। निर्देश प्राप्त होते ही जिला विद्यालय निरीक्षक राकेश कुमार ने जिले में आयोग से भेजे गए शिक्षकों को अन्यत्र विद्यालयों में समायोजित करने के लिए प्रस्ताव निदेशालय को भेज दिया है।शासन का यह फरमान जारी होते ही जिले के तदर्थ शिक्षकों में भी खुशी छा गई। देव विद्यालय इंटर कॉलेज तरौली में तैनात समीर कुमार पांडेय व सुलभ कुमार मिश्रा ने कहा कि नौकरी जाने के भय से परिवार में मायूसी का माहौल था। अब हम लोगों की तपस्या सार्थक हो गई, इसके लिए सरकार के प्रति हम लोग आजीवन आभारी रहेंगे। डीआईओएस राकेश कुमार ने बताया कि तदर्थ शिक्षकों की सेवाएं समाप्त नहीं की जाएंगी। शासन से निर्देश प्राप्त होने के बाद चार शिक्षकों के अन्यत्र समायोजन के लिए निदेशालय को प्रस्ताव भेज दिया गया है।


जिले के 208 तदर्थ शिक्षकों पर मंडरा रहा खतरा अब टल गया Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment