Nov 26, 2021

28 नवंबर को जिले के 13 केंद्रों पर आयोजित होने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा की हाइटेक विधि से निगरानी होगी

 

गौरीगंज (अमेठी)। 28 नवंबर को जिले के 13 केंद्रों पर आयोजित होने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा की हाइटेक विधि से निगरानी होगी। माध्यमिक शिक्षा विभाग ने जीजीआईसी गौरीगंज में सुविधा से लैस कंट्रोल रूम स्थापित कराते हुए कर्मियों को नामित किया है। नामित कर्मी सीसीटीवी कैमरे की रिकॉर्डिंग से ऑनलाइन निगरानी करेंगे। कंट्रोल रूम के जारी मोबाइल नंबर पर कोई भी व्यक्ति शिकायत व सूचना दर्ज करा सकेगा।

सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से आयोजित होने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा को नकल विहीन संपन्न कराने की कोशिश तेज हो गई है।इसके लिए 28 नवंबर को आयोजित होने वाली लिखित परीक्षा के लिए निर्धारित परीक्षा केंद्र जीआईसी टीकरमाफी व जामो, जीजीआईसी गौरीगंज, मुसाफिरखाना, अमेठी व जामो के साथ इंदिरा गांधी पीजी कॉलेज, आरआरपीजी कॉलेज, रणवीर इंटर कॉलेज रामनगर, रणंजय इंटर कॉलेज गौरीगंज, मलिक मोहम्मद भारतीय इंटर कॉलेज जायस, शिव प्रताप इंटर कॉलेज अमेठी और एएच इंटर कॉलेज मुसाफिरखाना में पहली पाली में 7006 तो दूसरी पाली मेें 4606 समेत 11,612 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। टीईटी परीक्षा को नकल विहीन संपन्न कराने की तैयारियां पूरी की जा रही हैं।

सचिव का पत्र मिलने के बाद माध्यमिक शिक्षा विभाग ने शहर स्थित जीजीआईसी में हाइटेक सुविधा से लैस कंट्रोल रूम स्थापित करते हुए कर्मियों की तैनाती की है। परीक्षा के नोडल अधिकारी आशुतोष मिश्र ने बताया कि कंट्रोल रूम में राजकीय हाईस्कूल सरमे के प्रधानाध्यापक वीरेंद्र प्रसाद के साथ कार्यालय के कनिष्ठ सहायक सुरेंद्र प्रताप व राजकीय हाईस्कूल पीढ़ी के रजत श्रीवास्तव की ड्यूटी लगाई गई है।नामित कर्मी स्कूल में लगे सीसीटीवी कैमरे के डीबीआर को ऑनलाइन कनेक्ट कर परीक्षा की निगरानी करने के साथ सूचना का प्रेषण करेंगेे। परीक्षा से जुड़ी कोई भी शिकायत मोबाइल नंबर 9628153264 व 6386331741 पर दी जा सकती है।नोडल अधिकारी ने नामित कर्मियों को कंट्रोल रूम में कार्यभार ग्रहण कर निर्देशों का पालन करते हुए परीक्षा की निगरानी कर सूचना का प्रेषण करने का निर्देश दिया है। नोडल अधिकारी ने कंट्रोल रूम संचालन व जिम्मेदारियों के पालन में लापरवाही बरतने पर कार्रवाई की चेतावनी दी है।

गठित हुए तीन सचल दलसहायक वित्त एवं लेखाधिकारी आशुतोष मिश्र ने बताया कि टीईटी परीक्षा की निगरानी के लिए डीएम अरुण कुमार के निर्देश पर तीन सचल दल गठित किया गया है। पहले सचल दल में डीआईओएस जयकरन लाल वर्मा के साथ प्रतिमा यादव व विकास तिवारी तो दूसरे सचल दल में बीएसए डॉ. अरविंद कुमार पाठक के साथ अरुण कुमार तिवारी व गरिमा यादव तथा तीसरे सचल दल में उनके साथ बीना विश्वकर्मा व दुर्गेश कुमार नामित किए गए हैं। परीक्षा के दिन सचल दल भ्रमण् शील रहकर परीक्षा को नकल विहीन कराने में सहयोग करेगा।सचिव के निर्देशों का होगा पालनडीआईओएस जयकरन लाल वर्मा ने बताया कि शिक्षक पात्रता परीक्षा को नकल विहीन संपादित करने के लिए तैयारियां पूरी की जा रही है। हाइटेक विधि से ऑनलाइन निगरानी के साथ केंद्रों पर मजिस्ट्रेट व स्टैटिक पर्यवेक्षक नामित किए जा चुके हैं। इतना ही नहीं तीन सचल दल भी परीक्षा की शुचिता कायम रखने के लिए परीक्षा के दौरान भ्रमणशील रहेंगे।


28 नवंबर को जिले के 13 केंद्रों पर आयोजित होने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा की हाइटेक विधि से निगरानी होगी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment