Nov 1, 2021

लेखपालों के करीब 8000 पद रिक्त, सबसे पहले भर्ती कराने की तैयारी

 

लखनऊ। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) का रिजल्ट जारी होने के बाद मुख्य परीक्षा के जरिए सबसे पहले लेखपाल भर्ती की तैयारी है। राजस्व परिषद ने आयोग के निर्देश पर मंडलायुक्तों से लेखपालों के रिक्त पदों का ब्योरा दिव्यांग आरक्षण के नए नियम के अनुसार संशोधित कर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।sarkari result search


राजस्व परिषद ने चयन वर्ष 2017-18, 2018-19 व 2019-20 के रिक्त पदों पर भर्ती का प्रस्ताव आयोग को भेजा था। प्रदेश में लेखपालों के करीब 8000 पद खाली हैं। इस बीच शासन ने बीती 30 जुलाई को दिव्यांगों को समूह क, ख, ग व घ में चार प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण सुनिश्चित करने का आदेश जारी कर दिया। साथ ही समूह क, ख, ग व घ श्रेणी के पदों का पुनर्चिह्नांकन भी किया है। इसके मद्देनजर आयोग ने लेखपालों की भर्ती के लिए राजस्व परिषद को दिव्यांग आरक्षण के नवीन प्रावधानों के हिसाब से भर्ती प्रस्ताव भेजवाने को कहा था। आयुक्त एवं सचिव राजस्व परिषद मनीषा त्रिघटिया ने सभी मंडलायुक्तों को निर्देश दिए हैं कि दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के 30 जुलाई 2021 के पत्र के अनुसार मंडलवार लेखपाल के रिक्त पदों का श्रेणीवार भर्ती प्रस्ताव तैयार किया जाए। इसे आयोग से निर्धारित प्रारूप पर परिषद को विशेष वाहक के जरिए सोमवार तक उपलब्ध करा दिया जाए।

लेखपालों के करीब 8000 पद रिक्त, सबसे पहले भर्ती कराने की तैयारी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment