Nov 15, 2021

अब सपा व बसपा शासनकाल में लंबित भर्तियों की बारी

 लखनऊ : 4512 एडेड माध्यमिक कालेजों के लिए प्रवक्ता व प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक (पीजीटी-टीजीटी) बड़ी संख्या में चयनित हो चुके हैं। शासन के निर्देश पर अब उन कालेजों को मुखिया यानी प्रधानाचार्य भी मिलेंगे। माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड उप्र बसपा व सपा शासन की 2011 व 2013 की प्रधानाचार्य भर्ती पूरा करने की तैयारी में है। जल्द ही साक्षात्कार घोषित होगा, दिसंबर मध्य से 2013 के लिए इंटरव्यू होने हैं।



चयन बोर्ड ने माध्यमिक कालेजों के लिए पीजीटी-टीजीटी 2021 की भर्ती रिकार्ड समय में पूरा की है। जनवरी में आवेदन शुरू करके अक्टूबर में दोनों का अंतिम परिणाम जारी हो चुका है। लिखित परीक्षा का परिणाम आने के बाद अवकाश के दिनों में भी सदस्यों ने साक्षात्कार जारी रखा। इसी तर्ज पर लंबित भर्तियां पूरी करने की तैयारी है।

सपा शासन की 2013 प्रधानाचार्य भर्ती का विज्ञापन 31 दिसंबर 2013 को आया था। आवेदकों की तादाद करीब 25 हजार से अधिक है। उनकी वर्गवार मेरिट आदि पिछले महीनों में तैयार कर ली गई है। जल्द ही 599 पदों के लिए साक्षात्कार का कार्यक्रम घोषित होगा। जिन कालेजों की रिक्तियां हैं वहां के हर कालेज से करीब दो शिक्षकों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा।

इसी तरह से बसपा शासन की 2011 की प्रधानाचार्य भर्ती का दस मंडलों का परिणाम लंबित है। उनमें से छह मंडलों मेरठ, मुरादाबाद, चित्रकूट, बस्ती, गोरखपुर व फैजाबाद (अब अयोध्या) का साक्षात्कार निरस्त किया जा चुका है, क्योंकि अभ्यर्थियों को भेजी गई सूचना में 21 दिन का समय पूरा नहीं हो रहा था। ऐसे में इन मंडलों का फिर से साक्षात्कार होगा। साथ ही अन्य मंडलों का परिणाम आएगा। योगी सरकार इन भर्तियों को जल्द पूरा कराकर विपक्ष पर वार भी कर सकेगी कि उनके कार्यकाल में नियुक्ति देने की स्थिति कैसी रही है। प्रधानाचार्य भर्ती दिसंबर से शुरू होगी।

जीव विज्ञान 2016 की परीक्षा भी कराई जाएगी

चयन बोर्ड ने टीजीटी जीव विज्ञान 2016 भर्ती की जीव विज्ञान विषय की लिखित परीक्षा कराकर परिणाम भी जारी होगा, इस विषय की भर्ती पहले निरस्त कर दी गई थी। बाद में न्यायालय व शासन ने परीक्षा कराने का निर्देश दिया था। इसी तरह से 2016 सामाजिक विज्ञान विषय के टीजीटी का अंतिम परिणाम घोषित किया जाना है।

अब सपा व बसपा शासनकाल में लंबित भर्तियों की बारी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment