Nov 1, 2021

रसोइयों की दिवाली होगी जगमग, दीपावली से पहले होगा भुगतान

 अंबेडकरनगर। दीपावली का पर्व जिले के 4 हजार 893 रसोइया मजदूरों के घर में रोशनी लेकर आया है। पांच माह के बकाया मानदेय के सापेक्ष तीन माह का मानदेय देने के लिए 2 करोड़ 18 लाख रुपये की राशि शासन से जिले को उपलब्ध कराई गई है। सोमवार को इन सभी रसोइया मजदूरों के खाते में 1500 रुपये प्रति माह की दर से तीन माह का मानदेय भेज दिया जाएगा। ऐसे में अब रसोइया मजदूर उल्लास के साथ दीप पर्व मना सकेंगे।


पांच माह से मानदेय का भुगतान न होने से आर्थिक मुश्किलों से जूझ रहे रसोइया मजदूरों के लिए बड़ी खुशखबरी है। दीपावली का पर्व उल्लास के साथ रसोइया मजदूर भी मना सकें, इसके लिए शासन से तीन माह का मानदेय जिले को उपलब्ध करा दिया है। जिले के 1582 परिषदीय विद्यालयों में 4 हजार 893 रसोइया मजदूर तैनात हैं। इन्हें पांच माह से मानदेय नहीं मिल सका था। अप्रैल, जुलाई, अगस्त, सितंबर व अक्तूबर का मानदेय न मिलने से रसोइया मजदूरों को आर्थिक मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा था। रसोइया मजदूरों को प्रति माह 1500 रुपये का मानदेय मिलता है। बकाया मानदेय भुगतान की मांग को लेकर आए दिन रसोइया मजदूर आवाज बुलंद कर रहे थे, लेकिन कोई सुध नहीं ली जा रही है।up btc online form 2019 sarkari result

इस बीच दीपावली पर्व भी आ गया। मानदेय न मिलने से रसोइया मजदूरों में मायूसी थी। उनका कहना था कि मानदेय मिला नहीं। आर्थिक संकट है। ऐसे में रोशनी का पर्व किस प्रकार से मना सकेंगे। उनके दर्द को संज्ञान में लेते हुए शासन ने इस बीच तीन माह के मानदेय भुगतान के लिए जिले को 2 करोड़ 18 लाख रुपये की राशि उपलब्ध करा दी। एमडीएम प्रभारी सत्यप्रकाश मौर्य ने बताया कि शासन से अप्रैल, जुलाई व अगस्त का मानदेय उपलब्ध कराया गया है। सोमवार को मानदेय का भुगतान हो सके, इसके लिए सभी जरूरी प्रक्रिया पूरी की जा रही है। 1500 रुपये प्रति माह की दर से 4500 रुपये सभी रसोइयों के खाते में भेज दिए जाएंगे।

तीन करोड़ रुपये कन्वर्जन कास्ट मिली
जिले में संचालित 1766 परिषदीय विद्यालयों में एमडीएम योजना का समुचित लाभ 2 लाख 18 हजार छात्र-छात्राओं को मिल सके, इसके लिए शासन से जिले को 3 करोड़ रुपये की राशि उपलब्ध हो गई है। जिले के विभिन्न क्षेत्रों में संचालित 1766 परिषदीय विद्यालयों में एमडीएम योजना का संचालन हो रहा है। इन विद्यालयों में पढ़ रहे 2 लाख 18 हजार छात्र-छात्राओं को लाभ मिल रहा है। कोरोना संकट के बाद गत सितंबर में विद्यालय खुले, लेकिन जिले को कन्वर्जन कास्ट उपलब्ध नहीं हो सकी थी। इसके चलते विद्यालय प्रशासन को अन्य खातों की राशि से एमडीएम योजना का संचालन करने को मजबूर होना पड़ रहा था। इस बीच शनिवार को शासन से जिले को कन्वर्जन कास्ट की 3 करोड़ रुपये की राशि उपलब्ध हो गई। एमडीएम प्रभारी सत्यप्रकाश मौर्य ने बताया कि शासन से 3 करोड़ रुपये की राशि कन्वर्जन कास्ट के रूप में प्राप्त हुई है। शीघ्र ही सभी विद्यालयों के खाते में राशि भेज दी जाएगी।
दीपावली से पहले होगा भुगतान
4893 रसोइया मजदूरों के तीन माह के मानदेय भुगतान के लिए शासन से 2 करोड़ 18 लाख रुपये की राशि उपलब्ध हो गई है। सोमवार को सभी रसोइया मजदूरों के खाते में राशि भेज दी जाएगी। दीपावली से पहले मानदेय का भुगतान करा दिया जाएगा। इसके साथ ही जिले को 3 करोड़ रुपये की कन्वर्जन कास्ट भी प्राप्त हुई है। शीघ्र ही इसे विद्यालयों के खाते में भेज दी जाएगी।
-भोलेंद्र प्रताप सिंह, बीएसए

रसोइयों की दिवाली होगी जगमग, दीपावली से पहले होगा भुगतान Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment