Nov 14, 2021

इस वजह से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं की नियुक्ति अटकी

 

बरेली जिले के 2857 आगंनबाड़ी केंद्रों पर सितंबर मेंं 564 रिक्त पदों के लिए कार्यकत्रियों और सहायिकाओं की नियुक्तियां होनी थी।इसके लिए विभिन्न विकासखंडों से दस हजार से ज्यादा महिलाओं ने आन-लाइन आवेदन किए हैं। इस बीच नियुक्तियां प्रक्रिया में धांधली का मामला सामने आने के बाद हाइकोर्ट में सामान्य वर्ग के आवेदकों ने याचिका दाखिल कराई थी।
जिस वजह से अब तक प्रक्रिया को गति नहीं मिल सकी है। यही कारण है कि आए दिन आवेदक विभाग में पहुंच नियुक्ति की जानकारी के लिए पहुंच रहे हैं।

 60 वर्ष पूरी कर चुकी कार्यकर्ताओं को सेवा मुक्त कर देने के बाद जिले के आंगनबाड़ी केंद्रों पर कार्यकत्रियों और सहायिकाओं के 564 पद खाली हो गए हैं। इन पदों को भरने के लिए बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग की ओर से आंगनबाड़ी, मिनी आंगनबाड़ी और सहायक पदों भर्तियां निकालीं गईं। रिक्त पदों के लिए जिले से 10,232 लोगों ने आवदेन किया। इस बीच नियुक्ति प्रक्रिया में सामान्य वर्ग के आवेदकों को दस फ़ीसदी का आरक्षण न मिलने की शिकायत लेकर कुछ आवेदक हाईकोर्ट पहुंचे हैं। हाईकोर्ट में शिकायतकर्ताओं की सूची में जिले से कोई नाम नहीं है। मगर, इसके चलते प्रक्रिया अटक जाने से आवेदकों अब इंतजार की घड़ियां गिननी पड़ रही हैं।
ऐसे में आवेदक दूसरे-तीसरे दिन विभाग और आंगनबाड़ी केंद्रों के चक्कर लगा रहे हैं।जिला कार्यक्रम अधिकारी दीनानाथ द्विवेदी ने बताया कि जिले स्तर से नियुक्ति प्रक्रिया को गति नहीं दी जा सकती है। हाइकोर्ट के अग्रिम आदेश के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

यह है स्थिति
2,857 आंगनबाड़ी केंद्र

2,293 आंगनबाड़ी कार्यकर्ता

5,500 रुपये प्रतिमाह मानदेय आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के लिए

2,700 रुपये प्रतिमाह मानदेय सहायिकाओं के लिए

ब्लाकवार आए आवेदनों पर एक नजर

शहरी क्षेत्र- 3230

मझगवां- 765

नवाबगंज- 705

आलमपुर जाफराबाद- 502

भुता- 497

दमखोदा- 463

बिथरी चैनपुर- 463

बहेड़ी- 441

मीरगंज- 436

फतेहगंज पश्चिमी- 429

फरीदपुर- 414

शेरगढ़- 389

क्यारा- 388

भदपुरा- 371

भोजीपुरा- 304

रामनगर- 295

इस वजह से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं की नियुक्ति अटकी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment