Dec 6, 2021

रिक्तियां व योग्य अभ्यर्थी हैं तो फिर भर्तियां क्यों नहीं? यह है लाठीचार्च का मामला

 

पीलीभीत। चाहे किसानों की समस्याएं हो या फिर गन्ना मूल्य का मुद्दा हो सांसद वरुण गांधी अपनी ही सरकार पर सवाल करने का कोई मौका नहीं चूक रहे। अब बेरोजगारी और रिक्तियों का मुद्दा उठाकर युवाओं के दर्द से जुड़ने के लिए ट्वीट कर रहे हैं। रेलवे में ग्रुप डी की भर्ती में हो रही देरी को लेकर उन्होंने पहला ट्वीट इसी महीने बृहस्पतिवार को किया था। दूसरा ट्वीट रविवार को आया। सांसद ने रिक्त पदों पर भर्ती में देरी का मुद्दा छेड़ते हुए पूरी व्यवस्था को सवालों के घेरे में लिया।

लखनऊ में कैंडल मार्च निकाल रहे युवाओं पर पुलिस के लाठी चार्ज का वीडियो शेयर करते हुए सांसद ने ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने कहा- ये बच्चे भी मां भारती के लाल हैं। इनकी बात मानना तो दूर, कोई सुनने को तैयार नहीं है। आवाज उठाने पर इनके ऊपर ये बर्बर लाठीचार्ज हो रहा है। अपने दिल पर हाथ रखकर सोचिए क्या ये आपके बच्चे होते तो इनके साथ यही व्यवहार होता? आपके पास रिक्तियां भी हैं और योग्य अभ्यर्थी भी, तो भर्तियां क्यों नहीं?


यह है लाठीचार्च का मामला
राजधानी लखनऊ में 69000 शिक्षक भर्ती मामला बीते काफी समय से गर्माया हुआ है। भर्ती प्रक्रिया पर सवाल उठाए जा रहे हैं। भर्ती में धांधली का आरोप आवेदक लगा रहे हैं। शनिवार को सीएम आवास की ओर कैंडल मार्च निकालते समय आवेदकों पुलिस से झड़प हो गई। पुलिस ने उन्हें लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस द्वारा पीटे जाने का वीडियो सांसद वरुण गांधी के ट्वीट के संग दिख रहा है। तमाम लोग उसे रीट्वीट भी कर रहे हैं।

रिक्तियां व योग्य अभ्यर्थी हैं तो फिर भर्तियां क्यों नहीं? यह है लाठीचार्च का मामला Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment