Dec 14, 2021

टीईटी 2021 पेपर लीक करने के मामले में मुख्य आरोपी निर्दोष चौधरी ने शामली कोर्ट में कर दिया सरेंडर

 

टीईटी परीक्षा में पेपर लीक कराने के मामले में मुख्य आरोपी निर्दोष चौधरी निवासी अलीगढ़ ने सोमवार सुबह शामली की कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। जानकारी लगने पर एसटीएफ टीम शामली में पहुंच गई। सीओ एसटीएफ बृजेश सिंह ने बताया कि निर्दोष चौधरी ने कांधला निवासी विकास को पांच लाख रुपये में पेपर बेचा था। अब एसटीएफ विकास की तलाश में लग गई है।


टीईटी का पेपर लीक मामले में एसटीएफ मेरठ द्वारा अब तक पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है, ये सभी आरोपी जेल में बंद हैं। अलीगढ़ के निर्दोष चौधरी प्राइमरी स्कूल में शिक्षक है, जिसने पांच लाख रुपये में पेपर बेचा था। निर्दोष की तलाश में एसटीएफ कई दिनों से लगी हुई थी। सोमवार को निर्दोष चौधरी ने शामली की कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। एसटीएफ ने बताया कि जांच-पड़ताल में सामने आया है कि निर्दोष चौधरी ने कांधला निवासी विकास को लीक हुए पेपर की फोटो कॉपी पांच लाख में बेच दी थी।


निर्दोष चौधरी के जेल जाने के बाद एसटीएफ मेरठ विकास की तलाश में लग गई है। एसटीएफ ने विकास को गिरफ्तार करने के लिए शामली में भी दबिश दी, लेकिन वह हत्थे नहीं चढ़ा है। सीओ एसटीएफ का कहना है कि निर्दोष चौधरी का एक भाई यूपी पुलिस में सिपाही है और दूसरा भाई इनकम टैक्स में है। पेपर लीक मामले में निर्दोष चौधरी की अहम भूमिका रही है।

निर्दोष चौधरी को रिमांड पर लेगी एसटीएफसीओ एसटीएफ बृजेश सिंह का कहना है कि आरोपी निर्दोष चौधरी को रिमांड पर लेने के लिए अब कोर्ट में अर्जी लगाएंगे। पूछताछ में ही निर्दोष पेपर लीक कराने वाले सरगना की जानकारी बताएगा। शामली कोतवाली थाने में निर्दोष के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था। जिसके चलते उसने शामली की कोर्ट में ही सरेंडर किया।

विकास शातिर है, पहले भी जा चुका जेलपेपर लीक के मामले में निर्दोष चौधरी से पेपर लेने में विकास निवासी कांधला का नाम सामने आया। एसटीएफ ने विकास की जानकारी जुटाई तो पता चला कि विकास शातिर है। पेपर आउट व सॉल्वर गैंग में कई बार उसका नाम सामने आया है। 2012 में भी विकास जेल गया था। बागपत के अरविंद राणा से भी विकास के संबंध होने बताए गए हैं।


यह आरोपी अब तक जा चुके जेलमनीष उर्फ मोनू, रवि, धर्मेंद्र, निवासी शामली, राहुल तोमर निवासी छतरपुर बड़ौत, गौरव मलान निवासी अलीगढ़ को एसटीएफ मेरठ गिरफ्तार करके अभी तक जेल भेज चुकी है। निर्दोष चौधरी ने शामली की कोर्ट में सरेंडर कर दिया। अब एसटीएफ का अगला टारगेट विकास निवासी कांधला है। जिसकी तलाश में एसटीएफ दबिश देने में लग गई है।

टीईटी 2021 पेपर लीक करने के मामले में मुख्य आरोपी निर्दोष चौधरी ने शामली कोर्ट में कर दिया सरेंडर Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment