Jan 10, 2022

चुनाव के कारण बढ़ा 10वीं व 12वीं की परीक्षा का इंतजार

 

 प्रयागराज : सूबे में विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होते ही राजनीति दलों की सक्रियता बढ़ गई है। चुनाव के चलते उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की 10वीं व 12वीं की परीक्षा का इंतजार बढ़ गया है। 




चुनाव का परिणाम 10 मार्च को आएगा। इसके बाद यूपी बोर्ड की परीक्षा का काम जोर पड़ेगा। इधर, यूपी बोर्ड ने परीक्षा केंद्रों की अनंतिम सूची जारी कर दिया है। यूपी बोर्ड की वेबसाइट पर रविवार को 40 जिलों की सूची अपलोड कर दी गई है। सोमवार को बचे 35 जिलों की सूची अपलोड होगी। आपत्तियों का निस्तारण करके केंद्रों की नई सूची फरवरी के अंत तक जारी की जा सकती है। इसके अलावा अन्य प्रक्रिया पूरी करके मार्च के अंत अथवा अप्रैल के प्रथम सप्ताह में परीक्षा शुरू होने की उम्मीद है। यूपी बोर्ड फरवरी महीने में परीक्षा शुरू करवाकर मार्च के मध्य तक उसे पूरा कर लेता है, लेकिन जिस वर्ष लोकसभा अथवा विधानसभा चुनाव होता है, उसके चलते परीक्षा कार्यक्रम में व्यापक बदलाव करना पड़ता है। शिक्षकों के चुनाव ड्यूटी में लगना व परीक्षार्थियों की संख्या अधिक होना है। यूपी बोर्ड परीक्षा में हर बार 50 लाख से अधिक परीक्षार्थी शामिल होते हैं। वर्ष 2022 के लिए 51,74,583 का पंजीकरण हुआ है।

चुनाव के कारण बढ़ा 10वीं व 12वीं की परीक्षा का इंतजार Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment