20 जन॰ 2022

टीईटी परीक्षा की शुचिता प्रभावित हुई तो निलंबित होंगे जिम्मेदार

 

गौरीगंज (अमेठी)। शिक्षक पात्रता परीक्षा को नकल विहीन कराने की कवायद तेज हो गई है। मंगलवार देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में डीएम ने माध्यमिक शिक्षा विभाग के साथ नामित केंद्र व्यवस्थापक, मजिस्ट्रेट व पर्यवेक्षक के साथ बैठक कर तैयारियों की समीक्षा की। बैठक में सचिव परीक्षा प्राधिकारी के निर्देशों की विस्तृत जानकारी देते हुए नकल विहीन परीक्षा संपादित कराने की जिम्मेदारी दी


डीएम ने परीक्षा के दौरान केंद्र पर सीसीटीवी कैमरा बंद मिलने, परिसर में स्मार्ट फोन मिलने, परीक्षार्थियों को असुविधा होने तथा परीक्षा की शुचिता प्रभावित होने की दशा में कक्ष निरीक्षक, केंद्र व्यवस्थापक के साथ नामित मजिस्ट्रेट व पर्यवेक्षक को निलंबित करते हुए विभागीय कार्रवाई की चेतावनी दी है। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी के निर्देश पर 23 जनवरी (रविवार) को जिले के 13 केंद्रों में दो पालियों में शिक्षक पात्रता परीक्षा आयोजित होगी।

बीते दिन मंगलवार को डीएम राकेश कुमार मिश्र ने केंद्रवार नामित मजिस्ट्रेट, स्टेटिक मजिस्ट्रेट, दोनों पर्यवेक्षक व केंद्र व्यवस्थापकों के साथ बैठक कर परीक्षा तैयारियों की समीक्षा की। डीएम ने केंद्र के सभी कक्षों में राउटर, सीसीटीवी कैमरा व वाइस रिकार्डर, फर्नीचर, सुरक्षा, पेयजल प्रसाधन समेत अन्य सुविधाओं के मौजूदगी की जानकारी बिंदुवार हासिल की। डीएम ने केंद्र व्यवस्थापकों व नामित अफसरों को सचिव के निर्देशों की विस्तृत जानकारी देते हुए नकल विहीन परीक्षा कराने की जिम्मेदारी दी

डीएम ने कहा कि केंद्र के भीतर कक्ष निरीक्षक, मजिस्ट्रेट तथा पर्यवेक्षक भी स्मार्ट फोन लेकर प्रवेश नहीं कर सकेेंगे। प्रवेशद्वार पर परीक्षार्थियों का सामान जमा करने का प्रबंध करना होगा। गेट पर सुरक्षा के बीच तलाशी ली जाएगी। इसके अतिरिक्त सेक्टर मजिस्ट्रेट को कोषागार से प्रश्नपत्र के सील्ड पैकेट केंद्र तक पहुंचाने के साथ गोपनीय सामग्री की पैकिंग थैली में करने तथा हस्तांरण की कार्रवाई नियमानुसार करने का निर्देश दिया।

टीईटी परीक्षा की शुचिता प्रभावित हुई तो निलंबित होंगे जिम्मेदार Rating: 4.5 Diposkan Oleh: TET NEWS

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें