26 फ़र॰ 2022

मातृत्व अवकाश में शपथ पत्र की अनिवार्यता खत्म

 लखनऊ : केजीएमयू प्रशासन ने मातृत्व एवं बाल्य देखभाल अवकाश के लिए शपथ पत्र की अनिवार्यता का आदेश रद कर दिया है। कुलसचिव ने इस आशय का आदेश जारी कर दिया है। ऐसे में चिकित्सकों व कर्मचारियों ने राहत की सांस ली है।



केजीएमयू में 450 चिकित्सक तैनात हैं। वहीं, करीब एक हजार रेजिडेंट चिकित्सक, करीब आठ हजार पैरामेडिकल, स्टाफ नर्स और कर्मचारी शामिल हैं। इसके साथ ही आउटसोर्सिग और संविदा कर्मचारी भी शामिल हैं। इन कर्मचारियों को मातृत्व व बच्चों की देखभाल के लिए अवकाश प्रदान किया जाता है। बीते दिनों कुलसचिव आशुतोष कुमार द्विवेदी ने अवकाश से पहले शपथ पत्र देने की बात कही थी। कर्मचारियों ने आदेश का विरोध किया। इस पर शपथ पत्र की अनिवार्यता का आदेश रद कर दिया गया।

मातृत्व अवकाश में शपथ पत्र की अनिवार्यता खत्म Rating: 4.5 Diposkan Oleh: TET NEWS

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें