Mar 31, 2022

यूपी के चार और जिलों में गोंड सहित 06 जातियों को और मिलेगा एसटी प्रमाण पत्र

 

लखनऊ, उत्तर प्रदेश के चार और जिलों में गोंड और उसके पर्याय वाली पांच जातियां धूरिया, नायक, ओझा, पठारी और राजगोंड को शीघ्र ही अनुसूचित जनजाति (एसटी) का प्रमाण पत्र मिलने लगेगा। यह जिले चंदौली, भदोही, संतकबीरनगर और कुशीनगर हैं। इसका संबंधित बिल सोमवार को ही लोकसभा में पेश हो चुका है। इससे करीब पांच लाख लोग लाभांवित होंगे।




दरअसल, एससी-एसटी (संशोधन) अधिनियम 2002 के तहत उत्तर प्रदेश में गोंड, धूरिया, नायक, ओझा, पठारी और राजगोंड को 13 जिलों में एसटी का दर्जा प्राप्त है। इन जिलों में महराजगंज, सिद्धार्थनगर, बस्ती, गोरखपुर, देवरिया, मऊ, आजमगढ़, जौनपुर, बलिया, गाजीपुर, वाराणसी, मीरजापुर और सोनभद्र शामिल हैं। शेष 62 जिलों में गोंड जाति अनुसूचित जाति (एससी) में दर्ज हैं।

अलग-अलग समय पर इन 13 जिलों में से ही चार अलग-अलग जिले चंदौली, भदोही, संतकबीरनगर और कुशीनगर बनाए गए हैं। इन चार जिलों में भी गोंड सहित छह जातियां अनुसूचित जाति में दर्ज थीं। इसका इन जिलों के लोग लंबे समय से विरोध कर रहे थे। उनका कहना है कि मूल जिले में तो उन्हें एसटी का दर्जा मिलता था, जबकि नए बने जिले में एससी का प्रमाण पत्र मिल रहा है।

यूपी के चार और जिलों में गोंड सहित 06 जातियों को और मिलेगा एसटी प्रमाण पत्र Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment