Mar 29, 2022

सरकार गठन के साथ अब यूपीटीईटी परिणाम पर निगाह

  

प्रयागराज : उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) का परिणाम प्रदेश विधानसभा चुनाव की आचार संहिता के कारण तय तिथि से एक माह लटक गया। शासन की अनुमति न मिलने से परिणाम घोषित नहीं किया जा सका। अब सरकार गठित हो जाने के बाद 21,65,179 परीक्षार्थियों का ध्यान शासन की ओर है। 




परीक्षा कार्यक्रम जारी किए जाते समय 23 जनवरी को परीक्षा कराने और 25 फरवरी को परिणाम घोषित करने की तिथि निर्धारित की गई थी। जब परीक्षा कार्यक्रम घोषित किया गया, तब विधानसभा चुनाव की घोषणा नहीं हुई थी। इसके बाद निर्वाचन आयोग ने विधानसभा चुनाव की घोषणा कर दी। 



आचार संहिता लागू हो जाने के बावजूद तय तिथि 23 जनवरी को परीक्षा कराई गई। ऐसे में उम्मीद की जा रही थी पात्रता परीक्षा होने के कारण परिणाम जारी किए जाने में अड़चन नहीं आएगी। मूल्यांकन कार्य कराए जाने के साथ उत्तर प्रदेश परीक्षा नियामक प्राधिकारी (पीएनपी) सचिव ने शासन को प्रस्ताव भेजकर परीक्षा कार्यक्रम के मुताबिक 25 फरवरी को परिणाम जारी करने की अनुमति मांगी। इस पर शासन ने विशेषज्ञ समिति से परामर्श लेने के बाद परिणाम जारी करने पर रोक लगा दी। अब प्रदेश में नई सरकार गठित हो गई है।
 
 
 ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि शपथ ले चुके मंत्रियों के विभागों का बंटवारा होने के बाद परिणाम जारी किया जा सकेगा। पीएनपी सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी ने बताया कि परिणाम घोषित करने के संबंध में अभी शासन से कोई निर्देश नहीं मिले हैं। शासन से अनुमति मिलते ही परिणाम घोषित कर दिया जाएगा।

सरकार गठन के साथ अब यूपीटीईटी परिणाम पर निगाह Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment