Mar 27, 2022

इस आरोप के चलते प्रधानाध्यापक के निलंबन और वेतन रोकने की संस्तुति

 अकोला : मनिया और पिनानी गांव के प्राथमिक विद्यालयों में वार्षिक परीक्षाएं नहीं कराई जा रही थीं। दोनों विद्यालयों के प्रधानाध्यापक गैरहाजिर थे। मनिया के प्रधानाध्यापक के बारे में साथी शिक्षकों व ग्रामीणों ने शिकायत की। प्रधानाध्यापक के निलंबन व एक माह का वेतन रोकने की संस्तुति की गई है। एक अन्य विद्यालय की प्रधानाध्यापक का भी एक माह का वेतन रोकने व विभागीय कार्रवाई की संस्तुति की गई है।



खंड शिक्षाधिकारी अमरेश कुमार शुक्रवार सुबह 11:30 बजे मनिया स्थित प्राथमिक विद्यालय में पहुंचे। यहां प्रधानाध्यापक भूपेंद्र सिंह गैरहाजिर थे। साथी शिक्षक व ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि वह अक्सर नशा करके विद्यालय में आते हैं। रजिस्टर में उपस्थिति दर्ज कर चले जाते हैं। पिनानी के प्राथमिक विद्यालय की प्रधानाध्यापक पूर्वी सिन्हा भी अनुपस्थित थीं। यहां भी वार्षिक परीक्षा नही कराई जा रही थी। खंड शिक्षाधिकारी ने बताया कि प्रधानाध्यापक भूपेंद्र सिंह को गैरजिम्मेदाराना व्यवहार पर पूर्व में भी चेतावनी दी जा चुकी है। उनके निलंबन व एक माह का वेतन रोकने की संस्तुति की है। पिनानी स्थित प्राथमिक विद्यालय की प्रधानाध्यापक पूर्वी सिन्हा भी अनुपस्थित थीं। उनका भी एक माह का वेतन रोकने व विभागीय कार्रवाई की संस्तुति की गई है।

दो बार निलंबन हो चुके हैं भूपेंद्र सिंह: भूपेंद्र सिंह मनिया के प्राथमिक विद्यालय में करीब 10 वर्ष से प्रधानाध्यापक हैं। साथी शिक्षकों व ग्रामीणों ने खंड शिक्षाधिकारी को बताया कि वह दो बार पूर्व में भी निलंबित हो चुके हैं।

खंड शिक्षाधिकारी के निरीक्षण में गैरहाजिर मिले दो विद्यालयों के प्रधानाध्यापक, नहीं कराई जा रह थीं वार्षिक परीक्षाएं

इस आरोप के चलते प्रधानाध्यापक के निलंबन और वेतन रोकने की संस्तुति Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment