17 अप्रैल 2022

प्राइमरी में 800, जूनियर विद्यालयों में 1000 घंटे होगा पठन-पाठन

 एटा में कोरोना काल में स्कूल बंद रहने से छात्र-छात्राओं की पढ़ाई प्रभावित रही। स्कूलों में पढ़ाई प्रक्रिया को बेहतर बनाने की दृष्टि से नए शैक्षणिक सत्र में पठन-पाठन प्रक्रिया की अवधि बढ़ाई गई है। अब क्लास में सुबह 7 से एक बजे तक शिक्षण कार्य होगा। उसके उपरांत एक घंटे शिक्षक-शिक्षिकाएं स्कूली कार्य निपटाएंगे।




जिला कॉआर्डिनेटर सामुदायिक गतिविधि डा. अरुण कुमार शर्मा ने बताया कि नए शैक्षणिक सत्र में पठन-पाठन प्रक्रिया बेहतर करने के लिए कार्य दिवस और घंटे बढ़ाए गए हैं। ताकि कोरोना काल में प्रभावित रही पढ़ाई को पटरी पर लाया जा सके। उन्होंने बताया कि अब पूर्व वर्ष में प्राथमिक विद्यालयों में 200 कार्य दिवस या 800 घंटे पढ़ाई करायी जाएगी। इसी प्रकार उच्च प्राथमिक विद्यालयों में 220 कार्य दिवस या 1000 घंटे पठन-पाठन किया जाएगा। साथ ही सप्ताह में शिक्षण घंटे न्यूनतम 45 निर्धारित किए गए हैं। जिला कोआर्डिनेटर ने बताया कि कार्यदिवस या घंटे बढ़ाए जाने के पीछे शासन की मंशा परिषदीय स्कूलों के बच्चों की छूटी हुई पढ़ाई को पूरी कराना है। जिसके लिए स्कूलों के प्रधानाध्यापक, शिक्षक-शिक्षिकाओं को निर्देशित किया गया है।

प्राइमरी में 800, जूनियर विद्यालयों में 1000 घंटे होगा पठन-पाठन Rating: 4.5 Diposkan Oleh: TET NEWS

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें