19 अप्रैल 2022

बीएसए का करीबी सीनियर लिपिक रिश्वत लेते गिरफ्तार, विजिलेंस टीम ने दर्ज किया मुकदमा

कन्नौज, जिले के बीएसए ऑफिस में एक भ्रष्टाचार का बड़ा मामला सामने आया है। यहां तैनात बीएसए के करीबी सीनियर क्लर्क बलवीर सिंह यादव को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया है। क्लर्क को एक शिक्षक का एरियर निकालने के एवज में दस हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए विजिलेंस लखनऊ की टीम ने रंगे हाथों पकड़ लिया। वरिष्ठ लिपिक के पकड़े जाने के बाद बीएसए कार्यालय में हड़कंप मच गया।



सूचना के अनुसार उत्कर्ष कटिहार सहायक अध्यापक पद पर प्राथमिक स्कूल अवनी द्वितीय जलालाबाद में तैनात है। उत्कर्ष की तैनाती 69000 शिक्षकों की भर्ती के दूसरे बैच में दिसंबर 2020- 21 में हुई थी। शिक्षक का कहना है कि कई महीने से उसका एरियर नहीं निकल रहा था। इसके चलते वह बाबू बलबीर सिंह यादव से लगातार एरिया निकालने की बात कह रहा था। इसके लिए वह लगातार ऐसे ऑफिस के चक्कर लगा रहा था। शिक्षक ने कई बार बीएसए से भी एरियर निकलवाने की बात कही, लेकिन बीएसए कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार के चलते का एरियर नहीं मिला।

बीएसए के चहेते बाबू बलबीर सिंह ने शिक्षक से एरिया निकालने के नाम पर 10,000 की रिश्वत मांगी। परेशान होकर से शिक्षक ने इसकी शिकायत विजिलेंस टीम लखनऊ से की। विजिलेंस की योजना के मुताबिक सोमवार को शिक्षक रुपए देने के लिए पहुंचा, तो कार्यालय में विजिलेंस की टीम ने रंगे हाथों सीनियर बाबू को रिश्वत लेते पकड़ लिया। इस समय बाबू को कोतवाली लाया गया है, जहां पर मुकदमा दर्ज कराने के बाद जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है।

 

बीएसए का करीबी सीनियर लिपिक रिश्वत लेते गिरफ्तार, विजिलेंस टीम ने दर्ज किया मुकदमा Rating: 4.5 Diposkan Oleh: TET NEWS

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें