Apr 15, 2022

बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा के कार्यक्रम में बदलाव मुश्किल

 

बरेली। शासन की मंशा है कि इस बार बीएड का नया सत्र लेट न हो। इसी कारण शासन ने परीक्षा का कार्यक्रम तय करके रुहेलखंड विश्वविद्यालय को भेजा है। माना जा रहा है कि इस वजह से अब इस कार्यक्रम में बदलाव की संभावनाएं कम हैं।


सूत्रों का कहना है कि विश्वविद्यालय को उसकी कोशिशों के बावजूद प्रवेश परीक्षा कराने के लिए अतिरिक्त समय नहीं मिलेगा। तय तिथियों के मुताबिक ही प्रक्रिया पूरी करानी होगी। विश्वविद्यालय ने भी इसी संभावना के तहत अपनी तैयारियां की हैं। इन्हें गोपनीय भी रखा जा रहा है। सिर्फ दो-तीन अधिकारी ही नीतिगत निर्णय ले रहे हैं जबकि परीक्षा कार्यक्रम के लिए कोर कमेटी बनाई गई थी।

शासन ने विश्वविद्यालय को बीएड प्रवेश परीक्षा की आवेदन प्रक्रिया शुरू करने के लिए 18 अप्रैल का समय दिया था। इस तिथि में महज चार दिन शेष हैं। इस बीच दो दिन अवकाश हैं। लिहाजा संभावना है कि शनिवार को विश्वविद्यालय बीएड परीक्षा का कार्यक्रम जारी कर दे।

इससे पहले तकनीकी स्तर पर सभी चीजों को विश्वविद्यालय परखेगा ताकि विद्यार्थियों को फार्म भरने से लेकर जमा करने में कोई दिक्कत न हो। परीक्षाएं भी जुलाई के प्रथम सप्ताह तक आयोजित की जा सकती हैं। उसके बाद काउंसिलिंग पर काम शुरू हो जाएगा।

बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा के कार्यक्रम में बदलाव मुश्किल Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment