Apr 16, 2022

सरकार शिक्षा मित्रों के साथ कर रही हैं सौतेला व्यवहार

 उत्तर प्रदेश में 5000 से अधिक शिक्षामित्रों की मौत हो जाने के बाद भी सरकार है मौन, अभी तक सरकार द्वारा शिक्षामित्रों की समस्याओं का नहीं किया गया निराकरण





अंबेडकरनगर, आम शिक्षक शिक्षामित्र एसोसिएशन अम्बेडकर नगर के पदाधिकारियों ने उत्तर प्रदेश सरकार पर शिक्षा मित्रों के साथ सौतेला व्यवहार किए जाने का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि शिक्षामित्र 20 वर्षों से अधिक समय से प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षण कार्य कर अपनी सेवा प्रदान कर रहे हैं। 


समायोजन निरस्त होने के बाद 5000 से अधिक शिक्षामित्रों की आसामिक मृत्यु हो गई। शिक्षा मित्रों द्वारा अल्प मानदेय में शिक्षकों के समान कार्य किया जा रहा है। फिर भी शिक्षकों के समान सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराई जा रहे हैं। शिक्षामित्रों को अल्प मानदेय में काम करना पड़ता है, मानदेय भी समय से नहीं मिल पाता है। समायोजन निरस्त होने के बाद बड़ी संख्या में शिक्षामित्र अभी भी अपने मूल विद्यालय वापस नहीं आ सके हैं।
 
जिसके कारण शिक्षामित्रों को अपने अल्प मानदेय में से तीन से ₹4000 विद्यालय तक पहुंचने में वाहन खर्च के रूप में खर्च करना पड़ता है। जिसके कारण शिक्षामित्रों का अपना खुद का परिवार चलाना मुश्किल हो गया है ।वही शिक्षामित्रों की समस्याओं के निस्तारण की मांग को लेकर आम शिक्षक शिक्षामित्र एसोसिएशन द्वारा पूर्व में इको गार्डन लखनऊ में वर्षों तक आंदोलन किया गया। महिला शिक्षा मित्रों ने सुहागन होते हुए भी अपने सर के बाल का मुंडन करवा डाली, ब्राह्मण शिक्षामित्रों ने जनेऊ उतार दिया। जिस पर सरकार द्वारा शिक्षामित्रों की समस्याओं के समाधान के लिए हाई पावर कमेटी का गठन किया गया। लेकिन उसका निर्णय अभी तक सामने नहीं आ सका, हाई पावर कमेटी शिक्षामित्रों के लिए छलावा साबित हुई। वही वर्तमान में शिक्षामित्रों को राज्य अध्यापक पुरस्कार चयन प्रक्रिया से भी बाहर कर दिया गया है। पदाधिकारियों ने कहा कि शिक्षक की संपूर्ण योग्यता प्राप्त करने पर भी शिक्षामित्रों को समायोजित न करके सरकार द्वारा शिक्षामित्रों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। आम शिक्षक शिक्षामित्र एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष रामचंद्र मौर्य, जिला महामंत्री रमापति वर्मा, जिला संगठन मंत्री सुरेंद्र कुमार यादव, जिला उपाध्यक्ष राहुल सिंह, जिला संरक्षक रमेश कुमार शुक्ला, जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष ओंकार नाथ सिंह ,उप महामंत्री गिरीश कुमार पांडे, जिला कोषाध्यक्ष रजिया खातून ,मीडिया प्रभारी शिवकुमार ने शिक्षामित्रों की समस्याओं का निराकरण न होने को लेकर नाराजगी प्रकट की व सरकार से शिक्षामित्रों की समस्याओं का शीघ्र निस्तारण कराने की मांग की, आम शिक्षक शिक्षामित्र एसोसिएशन अंबेडकर नगर के पदाधिकारियों ने जनपद के शिक्षामित्रों को गुटबाजी छोड़कर शिक्षामित्र हित में एकजुट होकर संघर्ष में शामिल होने की अपील की है। शिक्षामित्रों ने कहा कि यदि शीघ्र ही शिक्षामित्रों की समस्याओं का निस्तारण नहीं हुआ तो आम शिक्षक शिक्षामित्र एसोसिएशन द्वारा शिक्षामित्रों की मांगों के समर्थन में आंदोलन किया जाएगा।

सरकार शिक्षा मित्रों के साथ कर रही हैं सौतेला व्यवहार Rating: 4.5 Diposkan Oleh: tetnews

0 comments:

Post a Comment