26 मई 2022

बीईओ के फरमान ने उड़ाई नींद, छुट्टियों में कहां से भूसा लाएं गुरुजी

 

फिरोजाबाद: फिरोजाबाद के जिलाधिकारी ने सभी विभागों से गौशालाओं के लिए भूसा दान करने के लिए ग्रामीणों को प्रेरित करने की अपील की। डीएम की अपील पर कुछ विभागों के अधिकारियों ने अपने अधीनस्थों को टारगेट निर्धारित करते हुए पत्र जारी कर दिए हैं।




बीएसए ने बीईओ को ग्रामीणों को जागरुक करने के लिए कहा लेकिन शिक्षा विभाग में कुछ बीईओ ने ऐसे पत्र शिक्षकों के लिए जारी किए जिसमें उनको अपने स्कूली क्षेत्रों में ग्रामीणों से भूसा दान के लिए अपील करने के साथ ही भूसा का लक्ष्य भी दे दिया है। इस पत्र ने शिक्षकों की नींद उड़ा दी है कि आखिर वे छुट्टियों में कहां जाएं और किससे टारगेट पूरा कराएं।मंगलवार को हुए आदेशों के बाद में शिक्षकों की भी नींद उड़ गई। अरांव ब्लॉक में तो बाकायदा खंड शिक्षाधिकारी नंदलाल रजक ने पत्र जारी कर कहा कि न्याय पंचायत पर प्रधानाध्यापक एवं संकुल शिक्षकों के सहयोग से तीन-तीन क्विंटल भूसा एकत्रित कर उखरेंड गोशाला पर पहुंचाएं। इस आदेश के बाद में शिक्षक परेशान हो गए। एका ब्लॉक में आदेश पत्र तो जारी नहीं हुआ लेकिन ब्लॉक स्तर पर शिक्षकों के वाट्सएप ग्रुप पर खंड शिक्षाधिकारी ने न्याय पंचायतवार दो क्विंटल भूसा एकत्रित कर भेजने के आदेश दे दिए। संकुल के नोडल शिक्षक भी फोन घुमा कर शिक्षकों से भूसा मंगाने लगे। फिरोजाबाद ब्लॉक में भी वाट्सएप ग्रुप पर इस तरह के आदेश जारी हो जाने से शिक्षकों में चर्चा रही।

छुट्टियों में जिले से बाहर गए शिक्षक रहे परेशान :

छुट्टियों में जिले से बाहर गए शिक्षक इस आदेश को लेकर परेशान रहे। वह छुट्टियों में जिले में भी नहीं थे, इधर कुछ संकुल शिक्षक उन्हें फोन कर रहे थे।

सुबह ही आदेश वापस, शिक्षकों को खबर नहीं :

वहीं बताया जाता है कि जिला बेसिक शिक्षाधिकारी अंजली अग्रवाल ने सुबह ही इस तरह के आदेश को वापस लेने के लिए फोन पर सभी खंड शिक्षाधिकारियों को आदेश दिए, लेकिन इसके बाद भी दोपहर तीन बजे के बाद भी ग्रुप पर या लिखित में पत्र जारी करने वाले किसी भी खंड शिक्षाधिकारी ने आदेश वापस लेने की जानकारी नहीं दी।

टूंडला में शिक्षकों से एकत्र किया चंदा :

टूंडला में लक्ष्य निर्धारित होने के बाद में शिक्षकों ने रुपये भी एकत्रित कर लिए। सूत्रों की मानें तो शिक्षकों ने दस हजार से ज्यादा रुपये भी एकत्र कर लिए तथा इसके बाद भूसा खरीदने के लिए वह मंडियों में भी संपर्क करने पहुंचे।

बिजली विभाग अपने आदेश ले चुका वापस:

शिक्षा विभाग के बीईओ ही नहीं इससे पहले बिजली विभाग के अधिकारियों ने टूंडला में अपने अधीनस्थों को भूसा एकत्रित करने का टारगेट दे दिया था। विरोध के स्वर मुखरित हुए तो अब बिजली विभाग के उच्चाधिकारियों के निर्देश पर भूसा टारगेट का आदेश निरस्त करना पड़ा।

-भूसा दान स्वैच्छिक है। खंड शिक्षाधिकारियों से कहा था कि क्षेत्र भ्रमण के दौरान ग्रामीणों को जागरूक करें। आमजनता को भूसादान के लिए प्रेरित करने के निर्देश थे, जिन्हें सुबह वापस लिया जा चुका है। शिक्षकों को इस तरह से लक्ष्य देना सही नहीं है। किसी बीईओ ने इस तरह के आदेश किए हैं तो यह गलत है, इस संबंध में जानकारी करेंगी।

-अंजली अग्रवाल, बीएसए

बीईओ के फरमान ने उड़ाई नींद, छुट्टियों में कहां से भूसा लाएं गुरुजी Rating: 4.5 Diposkan Oleh: TET NEWS

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें